Search found 3 matches

by jayadeepan
23 Aug 2022
Forum: Questioning, Discussing & Debating
Topic: Questions for PBKs
Replies: 1567
Views: 627124

Re: Questions for PBKs

Sakar Murli, Revised on 19.12.2020 आत्मा सूक्ष्म बिन्दी है, उनको देखने के लिए दिव्य दृष्टि चाहिए। आत्मा का ध्यान कर नहीं सकेंगे। ‘हम आत्मा इतनी छोटी बिन्दी हैं’ - ऐसा समझ याद करना मेहनत है। ... बाप कहते हैं - आत्मा को ही नहीं देखा है, तो परमात्मा को कैसे देखेंगे? आत्मा को देख ही कैसे सकते - और सबके...
by jayadeepan
23 Aug 2022
Forum: Questioning, Discussing & Debating
Topic: Questions for PBKs
Replies: 1567
Views: 627124

Re: Questions for PBKs

Murli 15-6-16 says: " पानी की हद पर भी कितना झगड़ा चलता रहता है। दुश्मनी लगी पड़ी है। आपस में एक दो को ब्रदर्स समझते नहीं। सिर्फ ऐसे ही कह देते हैं कि हम सब एक हैं। एक तो हो न सकें। अनेक आत्मायें हैं, सबका अपना-अपना पार्ट है।" In the above Murli point, Trikaldarshi ShivBaba is describing t...
by jayadeepan
23 Aug 2022
Forum: Questioning, Discussing & Debating
Topic: Questions for PBKs
Replies: 1567
Views: 627124

Re: Questions for PBKs

Hi Shiva brother My question is, in the beginning, Murli said you will experience happiness in the Amrit Vela and it lasts a whole day. That's why we are knowledge path. But now the teaching says we will only become full at the end( that sounds like the Abrahamic religion when you die you will reach...